Aanshu Shayari आंशू शायरी हिंदी में (2022-23)

Aanshu Shayari In Hindi | आँशु शायरी हिंदी में

Aanshu Shayari In Hindi (आँशु हिंदी में) सम्बंधित हर शायरी पोस्ट के अन्दर है.Aanshu Shayari In Hindi | आँशु शायरी हिंदी में

Aanshu Shayari

आँसू आँसू जिस ने दरिया पार किए
कतरा कतरा आब में उलझा बैठा है

यूँ ही आँखों में आ गए आँसू
जाइए आप कोई बात नहीं

आँसू तुम्हारी आँख में आए तो उठ गए
हम जब करम की ताब न लाए तो उठ गए

हर एक आँख में आँसू हर एक लब पे फुगाँ
ये एक शोर ए कयामत सा कू ब कू क्या है

ये बे सबब नहीं आए हैं आँख में आँसू
खुशी का लम्हा कोई याद आ गया होगा

ये आँसू ढूँडता है तेरा दामन
मुसाफिर अपनी मंजिल जानता है

सोज ए गम ही से मिरी आँख में आँसू आए
सोचता हूँ कि इसे आग कहूँ या पानी

यूँ चश्म ए तर से चेहरे पर आँसू हुए रवाँ
दरिया से जैसे लावे कोई नहर काट कर

एक आँसू से कमी आ जाएगी
गालिबन दरियाओं के इकबाल में

हँसते हँसते निकल पड़े आँसू
रोते रोते कभी हँसी आई

पी तो लूँ आँखों में उमडे हुए आँसू लेकिन
दिल पे काबू भी तो हो जब्त का यारा भी तो हो

हमारी आँखों में बे वज्ह आ गए आँसू
यकीन कीजे किसी बात पर नहीं आए

सर ए मिज्गाँ ये नाले अब भी आँसू को तरसते हैं
ये सच है जो गरजते हैं वो बादल कम बरसते हैं

मैं जो रोया उन की आँखों में भी आँसू आ गए
हुस्न की फितरत में शामिल है मोहब्बत का मिजाज

आरिजों पर ये ढलकते हुए आँसू तौबा
हम ने शोलों पे मचलती हुई शबनम देखी

बहता आँसू एक झलक में कितने रूप दिखाएगा
आँख से हो कर गाल भिगो कर मिट्टी में मिल जाएगा

मैं किसी आँख से छलका हुआ आँसू हूँ नबील
मेरी ताईद ही क्या मेरी बगावत कैसी

Read Also:Dashara Shayari 
Read Also:Sadabahar Shayari 
Read Also:Roothna Shayari