Andaz Shayari अंदाज शायरी हिंदी में (2022-23)

Andaz Shayari In Hindi | अंदाज़ शायरी हिंदी में

Andaz Shayari In Hindi (अंदाज़ शायरी हिंदी में) सम्बंधित हर शायरी पोस्ट के अन्दर है.Andaz Shayari In Hindi | अंदाज़ शायरी हिंदी में  Andaz Shayari In Hindi (अंदाज़ शायरी हिंदी में) सम्बंधित हर शायरी पोस्ट के अन्दर है.

Andaz Shayari अंदाज शायरी हिंदी में (2022-23) In Hindi

Andaz Shayari
अजब अंदाज के शाम ओ सहर हैं
कोई तस्वीर हो जैसे अधूरी

रोज है दर्द ए मोहब्बत का निराला अंदाज
रोज दिल में तिरी तस्वीर बदल जाती है

अंदाज मुकद्दर के हैं गेसू ए जानाँ से
जो गाह उलझते हैं और गाह सँवरते हैं

Andaz Shayari अंदाज शायरी हिंदी में (2022-23) हिंदी में

तफरीक हुस्न ओ इश्क के अंदाज में न हो
लफ्जों में फर्क हो मगर आवाज में न हो

Andaz Shayari अंदाज शायरी हिंदी में (2022-23) 2 line

बंदगी का मिरी अंदाज जुदा होता है
मेरा काबा मेरे सज्दों में छुपा होता है

इस कदर वा दे का अंदाज हसीं होता है
कि तिरे झूट पे भी सच का यकीं होता है

तज्किरे हैं तो फकत कत्ल के अंदाज के हैं
शहर में कत्ल का मेरे कोई चर्चा ही नहीं

अंदाज हू ब हू तिरी आवाज ए पा का था
देखा निकल के घर से तो झोंका हवा का था

कुछ इस अंदाज से सय्याद ने आजाद किया
जो चले छुट के कफस से वो गिरफ्तार चले

नजअ में उस ने इस अंदाज से देखा मुझ को
मरते मरते हुई जीने की तमन्ना मुझ को

अंदाज अपना देखते हैं आइने में वो
और ये भी देखते हैं कोई देखता न हो

अपनी अंदाज के कह न कह ये तू निजाम
कि चुनाँ बैठ गया और चुनीं बैठ गई

अपना हर अंदाज आँखों को तर ओ ताजा लगा
कितने दिन के ब अद मुझ को आईना अच्छा लगा

हमारी फत्ह के अंदाज दुनिया से निराले हैं
कि परचम की जगह नेजे पे अपना सर निकलता है

सदियों से जमाने का ये अंदाज रहा है
साया भी जुदा हो गया जब वक्त पड़ा है

उस के अंदाज से झलकता था कोई किरदार दास्तानों का
उस की आवाज से बिखरती थी कोई खुशबू किसी कहानी की

सीख ले हम से कोई जब्त ए जुनूँ के अंदाज
बरसों पाबंद रहे पर न हिलाई जंजीर

यूँ भी मिला है हुस्न का अंदाज इश्क में
बिखरी है उन की जुल्फ परेशाँ हुआ हूँ मैं

वादा आने का वफा कीजे ये क्या अंदाज है
तुम ने क्यूँ सौंपी है मेरे घर की दरबानी मुझे

शाख ए उरियाँ पर खिला इक फूल इस अंदाज से
जिस तरह ताजा लहू चमके नई तलवार पर