Baap Beta Shayari बाप बेटा शायरी हिंदी में (2022-23)

Baap Beta Shayari In Hindi | बाप बेटा शायरी हिंदी में

Baap Beta Shayari In Hindi (बाप बेटा शायरी हिंदी में) सम्बंधित हर शायरी पोस्ट के अन्दर है.Baap Beta Shayari In Hindi | बाप बेटा शायरी हिंदी में  Baap Beta Shayari In Hindi (बाप बेटा शायरी हिंदी में) सम्बंधित हर शायरी पोस्ट के अन्दर है.

Baap Beta Shayari
हड्डियाँ बाप की गूदे से हुई हैं खाली
कम से कम अब तो ये बेटे भी कमाने लग जाएँ

बाप का है फख्र वो बेटा कि रखता हो कमाल
देख आईने को फरजंद ए रशीद ए संग है

किस शफकत में गुँधे हुए मौला माँ बाप दिए
कैसी प्यारी रूहों को मेरी औलाद किया

उस के माँ बाप नहीं हैं शायद
वर्ना उस में कहीं बच्चा होता

माँ की दुआ न बाप की शफकत का साया है
आज अपने साथ अपना जनम दिन मनाया है

मुद्दत के बाद ख्वाब में आया था मेरा बाप
और उस ने मुझ से इतना कहा खुश रहा करो

माँ बाप और उस्ताद सब हैं खुदा की रहमत
है रोक टोक उन की हक में तुम्हारे ने मत

यहाँ जितने हैं अपने बाप के हैं
तुम्हारे बाप का कोई नहीं है

बाप बोझ ढोता था क्या जहेज दे पाता
इस लिए वो शहजादी आज तक कुँवारी है

बाप जीना है जो ले जाता है ऊँचाई तक
माँ दुआ है जो सदा साया फगन रहती है

ये सोच के माँ बाप की खिदमत में लगा हूँ
इस पेड़ का साया मिरे बच्चों को मिलेगा

मेरा भी एक बाप था अच्छा सा एक बाप
वो जिस जगह पहुँच के मरा था वहीं हूँ मैं

तिफ्ल में बू आए क्या माँ बाप के अतवार की
दूध तो डिब्बे का है तालीम है सरकार की

बेटियाँ बाप की आँखों में छुपे ख्वाब को पहचानती हैं
और कोई दूसरा इस ख्वाब को पढ़ ले तो बुरा मानती हैं

मैं अपने बाप के सीने से फूल चुनता हूँ
सो जब भी साँस थमी बाग में टहल आया

हम भी तिरे बेटे हैं जरा देख हमें भी
ऐ खाक ए वतन तुझ से शिकायत नहीं करते

बेटे को चैक समझ लिया स्टेट बैंक का
सम्धी तलाश करने लगे हाई रैंक का

कुएँ की सम्त बुला ले न कोई ख्वाब मुझे
मैं अपने बाप का सब से हसीन बेटा हूँ