Bholenath Shayari 228+ | भोलेनाथ शायरी हिंदी में

Bholenath Shayari In Hindi, भोलेनाथ शायरी हिंदी में – आज का कंटेंट बहुत विशेष है । जिसमें आपके लिए Bholenath Shayari देंगे । आपकी पसंद का ध्यान आकर्षित और संबंधित स्टेज वाली सामग्री हेतु । एंज्वॉय शायरी वेबसाइट की टीम हर संभव प्रयास कर रही है ।

हमने जितने भी भोलेनाथ शायरी या उनके इमेज दिए है । उन्हें आपको बिना किसी झिजक के शेयर या अन्य कॉपी करना है । एवं अपनी उत्सुकता के साथ कॉमेंट करके जाना है । या सब्सक्राइब के लिए अपना आकर्षक स्वरूप दिखाना है ।

हमारी टीम के साथ मिलाकर अपने शायरी या स्टेटस भेजें । और हमारे साथ लोगों तक आपका कंटेंट पहुंचाना हैं । तो संपर्क कर सकते हैं । ये सभी Bholenath Shayari Hindi की 2 या 4 लाइन वाली और अन्य के साथ जोड़ा गया है।

Bholenath Shayari

आपका समय कीमती है, इससे हम आपका समय खराब नही करेंगे । नीचे कुछ शब्दों के बाद अपनी पसंदीदा शायरियां पढ़ेंगे । और कमेंट And शेयर कर पाएंगे । पर पहले हम सिर्फ सराहनीय और उत्सुकता भरी जानकारी देंगे । अन्य संबधित पोस्ट को पढ़ने के आग्रह को स्वीकार करे । और भोलेनाथ संबंधित को पढ़कर, उसे भी पढ़ने का वादा करें।

Bholenath Shayari In Hindi (हिंदी में भोलेनाथ शायरी)

ठीक है, अब अपनी जिज्ञासा को जगाए । और हमारी टीम द्वारा प्रस्तुत ये सभी Bholenath Shayri In Hindi . भोलेनाथ शायरी हिंदी में को पढ़ें;

Also Read:- Fathers Day Shayari In Hindi
Also Read:- Fathers Day Status In Hindi
Also Read:- Flirt Shayari In Hindi 

जिनके रोम रोम में शिव हैं
वही विष पिया करते हैं
जमाना उन्हे क्या जलाएगा
जो श्रृंगार ही अंगार से किया करते हैं।
जय भोलेनाथ, शिव शम्भू

 

सारा जहाँ है जिसकी शरण में
नमन है उस शिव जी के चरण में
बने उस शिवजी के चरणों की धुल
आओ मिल कर चढ़ाये हम श्रद्धा के फूल।

 

मर-मर के तू लाख जन्म ले ले,
हाथ में तेरे राख भी ना आयेगा।
आरंभ तेरा तुझसे है,
अंत में तू महाकाल के पास जायेगा।

 

मुझे मेरी हाथों की लकीरों पर नहीं,
बल्कि हाथ की लकीरों को बनाने वाले महादेव पर भरोसा है।
हर-हर महादेव

 

नाच रहे ड़मरू की ताल पर शिवशंम्भु,
त्रिशुलधारी गंगाधर बाबा महाकाल सर्वेशु।