Bhoolna Shayari भूलना शायरी हिंदी में (2022-23)

Bhoolna Shayari In Hindi | भूलने शायरी हिंदी में

Bhoolna Shayari In Hindi (भूलने शायरी हिंदी में) सम्बंधित हर शायरी पोस्ट के अन्दर है.Bhoolna Shayari In Hindi | भूलने शायरी हिंदी में Bhoolna Shayari In Hindi (भूलने शायरी हिंदी में) सम्बंधित हर शायरी पोस्ट के अन्दर है.

Bhoolna Shayari भूलना शायरी हिंदी में (2022-23) In Hindi

Bhoolna Shayari
शायद अपनी गलतियों को हँस कर भूलने के फुक्दान को तजरबा कहते हैं
या फिर शायद इसी इख्तिलाज ए कम तरी को

अभी कुछ दिन लगेंगे
जहान ए रंग के सारे खस ओ खाशाक सब सर्व ओ सनोबर भूलने में अभी कुछ दिन लगेंगे

अजनबी देस के रस्तों पे भटकते राही
झुंझलाहट में तुझे भूलने की कोशिशें भी कीं
कैसे फिर लौट भी आने की दुआ करते हैं

Bhoolna Shayari भूलना शायरी हिंदी में (2022-23) हिंदी में

जिंदगी के गीतों के बोल सुनना
तो झील आँखों कँवल से चेहरों को भूलने का
कोई तरीका नहीं

Bhoolna Shayari भूलना शायरी हिंदी में (2022-23) 2 line

शायद
मैं शायद तुम को यकसर भूलने वाला हूँ
शायद जान ए जाँ शायद

दिल हमारे याद ए अहद ए रफ्ता से खाली नहीं
अपने शाहों को ये उम्मत भूलने वाली नहीं

इक सितारा आदर्श का
इक साथ भरती हैं हुंकारा
भूलने लगते हैं जब मासूम जाएर

आखिरी सच
जैसे कि भूलने लगे बच्चा कोई सबक
जैसे जबीं को छूने लगे मौत का अरक

दिमाग ले लो
ये रात का कौन सा पहर है
मैं रास्ता भूलने लगा हूँ

कोशिश राएगाँ
और ये कैसी सच्चाई है
आज भूलने की कोशिश में

तुम्हें गुस्सा आता है
अपनी भूलने की आदत पर गुस्सा आता है
मैं कुछ न कुछ

जवाल के आईने में जिंदा अक्स
याद रखने की तमन्ना
भूलने की आरजू

सब को अपने खिलाफ करते हुए
यार को भूलने से डरते हुए

कुछ लफ्ज थे
कोई शय देती नहीं अपना पता
भूलने लगता हूँ अपना नाम तक

एक उदास शाम के नाम
जो नाम भूलने का था उस एक नाम को
गली गली पुकारते रहे

उकताए हुए बदन
अपनी मंजिल का पता भूल जाते हैं
इसी पता भूलने को समाज

वो लम्हा
बड़े अहमक हो
उसे भूलने को कहते हो

एहसास
लम्हात का हयूला कुछ भूलने लगा था
आवाज का सरापा कुछ ऊँघने लगा था

रख्श ए उम्र
कुछ भूलने की फिर उसे पाने की जुस्तुजू
कुछ पूछ मुझ से बाबत ए अफ्कार ए दो जहां

यकीन से यादों के बारे में कुछ कहा नहीं जा सकता
अब मैं भूलने लगा हूँ
बहुत दिनों से ठहरी हुई उदासी की वजह से शायद

Read More :Rajputana Shayari
Read More :Radha Krishna Shayari
Read More :Raah Shayari