ब्रेकअप स्टेटस | Breakup Status

Breakup Status | ब्रेकअप स्टेटस

कई लोगों से द्वारा पेज पर Breakup Status | ब्रेकअप स्टेटस पढ़ना और भेजना पसंद आ रहा है। हमारा शायरी और कोट्स का संग्रह बहुत बड़ा है। उसी में से आपके लिए छांटे हुए ये शायरी और स्टेटस यहां मौजूद किए है। आप फेसबुक और व्हाट्स ऐप पर सेंड करें। सीधे कॉपी करके भी अपने फेमिली सहित दोस्तों को भेजें।

हमारे ये शायरी और कोट्स पढ़ें और कमेंट भी करें। हमारी Enjoy Shayari वेबसाइट को टीम आपके लिए दैनिक उपलब्ध है। किसी भी समय आप संपर्क कर समस्या के समाधान पाएं। टीम का प्रयास है, की हर तरह की शायरी, कोट्स, और फोटोज को उपलब्ध कराए। हम बहुत जल्दी कुछ और नई पोस्ट आपके लिए Breakup Status | ब्रेकअप स्टेटस संबंधित अपडेट करते है।

अपने अमूल्य समय को अब हमारे इस पोस्ट में उपलब्ध शायरी और कोट्स को पढ़ने के लिए उत्सुक बनाएं।

[English: Many people like to read and send Breakup Status | ब्रेकअप स्टेटस to page. Our collection of Shayari and Quotes is huge. Out of that, these shayari and status, sorted out for you, have been presented here. You send on Facebook and WhatsApp. Directly copy and send to friends including your family.Breakup Status

Read our poetry and quotes and also comment. Our Enjoy Shayari website team is available daily for you. You can get in touch with us at any time to get your problem resolved. The effort of the team is to provide all types of poetry, quotes, and photos. Very soon we update some more new posts Breakup Status | ब्रेकअप स्टेटस related for you.

Make your invaluable time eager to read our SHAYARI and quotes available in this post now.]breakup shayari status quotes | ब्रेकअप शायरी कोट्स स्टेटस

इश्क की हमारे बस इतनी सी कहानी है ,
तुम बिछड गए , हम बिख़र गए ,
तुम मिले नहीं और , हम किसी और के हुए नही ।

प्यार हर किसी को जीना सिखा देता है ,
वफ़ा के नाम पर मरना सिखा देता है ,
प्यार नही किया तो करके देखो ,
ये हर दर्द सहना सिखा देता है ।

तेरी यादों में जो गुजरे हैं ,
उस पल का मैं हिसाब क्या लिखूं ,
तुम सब जानकर भी पूछते हो क्या है ये ,
अब तू ही बता इस सवाल का मैं जवाब क्या लिखूं ।

वो बिछड़ के हमसे ये दुरिया कर गई ,
ना जाने क्यों ये मोहब्बत अधूरी कर गई ,
अब हमें तन्हाईया चुभती है तो क्या हुआ ,
कम से कम उसकी सारी तमन्ना तो पूरी हो गई ।

इन आंखो मे आंसू आये न होते ,
पीछे मुड़ कर मुस्कुराये न होते ,
उनके जाने के बाद यही गम रहेगा ,
के काश वो हमारी जिंदगी में आये न होते ।

सोचा था तड़पायेंगे हम उन्हें ,
किसी और का नाम लेके जलायेगें उन्हें ,
फिर सोचा मैंने उन्हें तड़पाके दर्द मुझको ही होगा ,
तो फिर भला किस तरह सताए हम उन्हें ।

मन उसने जाने का बना लिया था ,
किसी और को अपने दिल में बसा लिया था ,
उसे रोक कर अब करते भी तो क्या साहब ,
जब रंग हाथों में उसने किसी और के नाम का सजा लिया था ।

ये वक्त बदला और बदली ये कहानी है ,
अब तो बस मेरे पास उनकी यादें पुरानी है ,
न लगाओ मेरे ज़ख्मो पे मरहम ,
क्योंकि मेरे पास बस उनकी यही बची हुई निशानी है ।

जब कोई ख्याल इस दिल से टकराता है ,
तो दिल न चाहते हुए भी खामोश हो जाता है ,
कोई सब कुछ कह कर भी कुछ नही कह पाता है ,
और कोई बिना कुछ कह भी सब कुछ कह जाता है ।

हमारी चाहत ने उस बेवफा को ख़ुशी दे दी ,
और उस वेबफा ने बदले में ख़ामोशी दे दी ,
मांगी तो उस रब से दुआ मरने की थी ,
लेकिन उसने भी हमे तड़पने के लिए जिंदगी दे दी ।

वक़्त के मोड़ पे ये कैसा वक़्त आया है ,
ज़ख़्म दिल का ज़ुबाँ पर आया है ,
न रोते थे कभी काँटों की चुभन से ,
आज न जाने क्यों फूलों की खुशबू से रोना आया है ।

तेरे लिए हर सपने नीलाम कर दिया मैंने ,
तुम्हें खास बनाने के लिए खुद को आम करदिया मैंने ,
तुम कहती थी की मैं खुश रहना चाहती हूँ ,
इसलिए मेरे खुशियों को तेरे नाम कर दिया मैंने ।

हम आँखों से रोये और होठो से मुस्कुरा बैठे ,
हमतो बस यूँ ही उनसे इश्क-ए-वफ़ा निभा बैठे ,
वो हमे अपनी मोहब्बत का एक लम्हा भी न दे सके ,
और हम उन पर यूही हर लम्हा लूट बैठे ।

शादी के वादे तो कर लिए थे एक दूसरे से ,
पर मैं तेरी मांग में अपने नाम का सिंदूर सजा ना सका ,
तुझे पा तो लिया था मैंने , पर तुझे अपना बना ना सका ।

पल पल मुश्किल से कट रहा है ,
अब तेरी कमी खल रही है ,
बाहर से शांत हूँ मगर ,
जुदाई की आग अंदर जल रही है ।

चिंगारी का ख़ौफ़ न दिया करो हमे ,
हम अपने दिल में दरिया बहाय बैठे है ,
अरे हम तो कब का जल गये होते इस आग में ,
लेकिन हमतो खुद को आंसुओ में भिगोये बैठे है ।

जिस दिन चला गया मैं,
अपनी राह बदलकर.
वादा करता हूँ,
फिर कभी पलटकर भी
नहीं देखूंगा.

 

jis din chala gaya main,
apanee raah badalakar.
vaada karata hoon,
phir kabhee palatakar bhee
nahin dekhoonga.

 

दिल धोखे में है,
और धोखेबाज दिल में.

 

dil dhokhe mein hai,
aur dhokhebaaj dil mein.

 

छोड़ दिया सबको बिना
वजह परेशान करना,
जब कोई अपना
समझता ही नहीं तो,
उसे अपनी याद दिलाकर
क्या करना.

 

chhod diya sabako bina
vajah pareshaan karana,
jab koee apana
samajhata hee nahin to,
use apanee yaad dilaakar
kya karana.