Fakiri Shayari फकीरी शायरी हिंदी में (2022-23)

Fakiri Shayari In Hindi | फ़कीरी शायरी हिंदी में

Fakiri Shayari In Hindi (फ़कीरी शायरी हिंदी में) सम्बंधित हर शायरी पोस्ट के अन्दर है.Fakiri Shayari In Hindi | फ़कीरी शायरी हिंदी में Fakiri Shayari In Hindi (फ़कीरी शायरी हिंदी में) सम्बंधित हर शायरी पोस्ट के अन्दर है.

Fakiri Shayari फकीरी शायरी हिंदी में (2022-23) In Hindi

Fakiri Shayari
देखे न फकीरी को कोई शक से हमारी
दीवार में दर बनता है दस्तक से हमारी

ये समझ कर फकीरी ही में है खुदा
गुन हमेशा फकीरों के गाते रहे

अब फकीरी में कोई बात नहीं
हश्मत ओ जाह ओ कर्र ओ फर दे दे

Fakiri Shayari फकीरी शायरी हिंदी में (2022-23) हिंदी में

उस के फिकरे से मैं क्या समझूँ कोई समझा दे
दफअ तन मेरी तरफ देख के बोला ऐ है

Fakiri Shayari फकीरी शायरी हिंदी में (2022-23) 2 line

सहव और सुक्र में रहते हैं तभी तो फुकरा
क्यूँकि आलम है अजब बे खबरी का आलम

हर इक फिकरे पे है झिड़की तो है हर बात पर गाली
तुम ऐसे खूबसूरत हो के इतने बद जबाँ क्यूँ हो

उन से मिल कर और भी कुछ बढ़ गईं
उलझनें फिक्रें कयास आराइयाँ

किसी मगरूर के आगे हमारा सर नहीं झुकता
फकीरी में भी अख्तर गैरत ए शाहाना रखते हैं

मंदिर गए मस्जिद गए पीरों फकीरों से मिले
इक उस को पाने के लिए क्या क्या किया क्या क्या हुआ

सफर हो शाह का या काफिला फकीरों का
शजर मिजाज समझते हैं राहगीरों का

घर बार छोड़ कर वो फकीरों से जा मिले
चाहत ने बादशाहों को महकूम कर दिया

अटे हुए हैं फकीरों के पैरहन कैफी
जहाँ ने भीक में मिट्टी बिखेर कर दी है

दो शाला शाल कश्मीरी अमीरों को मुबारक हो
गलीम ए कोहना में जाड़ा फकीरों का बसर होगा

जिस अहद में लुट जाए फकीरों की कमाई
उस अहद के सुल्तान से कुछ भूल हुई है

हम फकीरों से बे अदाई क्या
आन बैठे जो तुम ने प्यार किया

मसनद ए शाही की हसरत हम फकीरों को नहीं
फर्श है घर में हमारे चादर ए महताब का

ये इंकिलाब ए जमाना नहीं तो फिर क्या है
अमीर ए शहर जो कल था वो है फकीरों में

जब फिकरों पर बादल से मंडलाते होंगे
इंसाँ घट कर साए से रह जाते होंगे

वाँ लाल फड़कता है अमीरों के कफस में
याँ फाख्ता हक गो है फकीरों के कफस में

Read More :Valentines Day Status
Read More :Valentines Day Shayari
Read More :Urdu Status