Hasna Shayari हसना शायरी हिंदी में (2022-23)

Hasna Shayari In Hindi | हसना शायरी हिंदी में

* Shayari In Hindi (* हिंदी में) सम्बंधित हर शायरी पोस्ट के अन्दर है.Hasna Shayari In Hindi | हसना शायरी हिंदी में * Shayari In Hindi (* हिंदी में) सम्बंधित हर शायरी पोस्ट के अन्दर है.

Hasna Shayari

ऐसी क्या बीत गई मुझ पे कि जिस के बाइस
आब दीदा हैं मिरे हँसने हँसाने वाले

मैं रोऊँ तो दर ओ दीवार मुझ पर हँसने लगते हैं
हँसूँ तो मेरे अंदर जाने क्या क्या टूट जाता है

देख ऐ मेरी जबूँ हाली पे हँसने वाले
वक्त की धूप ने किस दर्जा निखारा मुझ को

रोज सुनता हूँ मैं हँसने की सदा
कौन ये मेरे सिवा है मुझ में

खुद पर किसी को हँसने का मौका नहीं दिया
पूछा किसी ने हाल तो सिगरेट जला लिया

तुम भी इस शहर में बन जाओगे पत्थर जैसे
हँसने वाला यहाँ कोई है न रोने वाला

आ गया याद उन्हें अपने किसी गम का हिसाब
हँसने वालों ने मिरे अश्क जो गिन के देखे

जरा ये भी तो देखो हँसने वालो
कि मैं कितनी बुलंदी से गिरा हूँ

मैं ने हँसने की अजिय्यत झेल ली रोया नहीं
ये सलीका भी कोई आसान जीने का न था

बहुत से गम छुपे होंगे हँसी में
जरा इन हँसने वालों को टटोलो

हम इश्क के मारों का इतना ही फसाना है
रोने को नहीं कोई हँसने को जमाना है

बर्क से खेलने तूफान पे हँसने वाले
ऐसे डूबे तिरे गम में कि उभर भी न सके

पत्थर होता जाता हूँ
हँसने दो या रोने दो

एक दिन वो दिन थे रोने पे हँसा करते थे हम
एक ये दिन हैं कि अब हँसने पे रोना आए है

इतना तो जिंदगी में किसी के खलल पड़े
हँसने से हो सुकून न रोने से कल पड़े

तुझे जब देखता हूँ तो खुद अपनी याद आती है
मिरा अंदाज हँसने का कभी तेरे ही जैसा था

मिरी नाकामियों पर हँसने वाले
तिरे पहलू में शायद दिल नहीं है

रोती हुई एक भीड़ मिरे गिर्द खड़ी थी
शायद ये तमाशा मिरे हँसने के लिए था

मुझे चाक ए गरेबाँ पर हँसी आई तो है लेकिन
मिरे हँसने पे उन की आँख भरी आई तो क्या होगा

जिगर में टीस लब हँसने पे मजबूर
कुछ ऐसी ही हमारी जिंदगी है

Read More :Bewakoof Shayari
Read More :Bezubaan Shayari
Read More :Bewajah Shayari