Izzat Shayari

इज्ज़त शायरी – Izzat Shayari in Hindi

Izzat Shayari 👍Izaat Shayari

Izzat Shayari in Hindi – इज्जत शायरी इन हिंदी

Izzat Shayari
Izzat Shayari 👍Izaat Shayari
Izzat Shayari in Hindi – इज्जत शायरी इन हिंदी

अगर इज्जत का डर हो तो मोहब्बत करना छोड़ दें,
इश्क की गलियों में आओगे तो चर्चे जरूर होंगे।

 

मयखाने की इज्ज़त का सवाल था हुज़ूर,
सामने से गुजरे तो, थोड़ा सा लड़खड़ा दिए।

 

कभी कभी लोग मीठी मीठी बाते करके,
आपको इज्जत नहीं बल्कि धोका दे रहे होते है।

 

न छेड़ा करो बात बात पे एडमिन को यारो,
पूरे ग्रुप में उसकी बेइज्जती खराब होती है।

 

आजकल वह लोग हमें इज्जत करना सिखा रहे हैं,
जिन्हें अपनी इज्जत के आगे,
दूसरों की इज्जत की परवाह नहीं होती।

 

औकात तो लोगों को डरा कर भी बनाई जा सकती है,
इज्जत कमाने के लिए प्यार बाँटना पड़ता है।

 

अलग ही इज्जत है, चाय में, इलायची की भी,
हर किसी के लिए, नहीं डाली जाती।

 

मोहबत इज्जत से शुरू होती है,मोहब्बत इज्जत पर ही खत्म होती है।

 

झुक जाते हैं जो लोग आपके लिए,
किसी भी हद तक,
वो सिर्फ आपकी इज्जत ही नहीं,
आपसे मोहब्बत भी करते हैं।

Dhamakedar Shayari धमाकेदार शायरी हिंदी में

Intjaar Shayari इंतजार शायरी हिंदी में (2022-23)