Jawabi Shayari जवाबी शायरी हिंदी में (2022-23)

Jawabi Shayari In Hindi | जवाबी शायरी हिंदी में

* Shayari In Hindi (* हिंदी में) सम्बंधित हर शायरी पोस्ट के अन्दर है.Jawabi Shayari In Hindi | जवाबी शायरी हिंदी में * Shayari In Hindi (* हिंदी में) सम्बंधित हर शायरी पोस्ट के अन्दर है.

Jawabi Shayari
क्यूँ परखते हो सवालों से जवाबों को अदीम
होंट अच्छे हों तो समझो कि सवाल अच्छा है

कई जवाबों से अच्छी है खामुशी मेरी
न जाने कितने सवालों की आबरू रक्खे

वक्त की महरूमियों ने छीन ली मेरी जबान
वर्ना इक मुद्दत तलक मैं ला जवाबों में रहा

अल्लाह रे नाजुकी कि जवाब ए सलाम में
हाथ उस का उठ के रह गया मेहंदी के बोझ से

या उस से जवाब ए खत लाना या कासिद इतना कह देना
बचने का नहीं बीमार तिरा इरशाद अगर कुछ भी न हुआ

जवाब ए नामा या देता नहीं या कैद करता है
जो भेजा हम ने कासिद फिर न पाई कुछ खबर उस की

चाहता हूँ मैं तशद्दुद छोड़ना
खत ही लिखते हैं जवाबी लोग सब

दें भी जवाब ए खत कि न दें क्या खबर मुझे
क्यूँ अपने साथ ले न गया नामा बर मुझे

वाँ से आया है जवाब ए खत कोई सुनियो तो जरा
मैं नहीं हूँ आप मैं मुझ से न समझा जाएगा

मुख्तार हैं वो लिक्खें न लिक्खें जवाब ए खत
साहब को रोज अपना अरीजा रिपोर्ट है

Read More :Iman Shayari
Read More :Ilzam Shayari
Read More :Ijazat Shayari