Katl Shayari कत्ल शायरी हिंदी में (2022-23)

Katl Shayari In Hindi | कत्ल शायरी हिंदी में

* Shayari In Hindi (* हिंदी में) सम्बंधित हर शायरी पोस्ट के अन्दर है.Katl Shayari In Hindi | कत्ल शायरी हिंदी में * Shayari In Hindi (* हिंदी में) सम्बंधित हर शायरी पोस्ट के अन्दर है.

Katl Shayari कत्ल शायरी हिंदी में (2022-23) In Hindi

Katl Shayari
कत्ल और मुझ से सख्त जाँ का कत्ल
तेग देखो जरा कमर देखो

जुल्फों में किया कैद न अबरू से किया कत्ल
तू ने तो कोई बात न मानी मिरे दिल की

मैं ने अपनी ख्वाहिशों का कत्ल खुद ही कर दिया
हाथ खून आलूद हैं इन को अभी धोया नहीं

Katl Shayari कत्ल शायरी हिंदी में (2022-23) हिंदी में

मैं कत्ल हो के भी शर्मिंदा अपने आप से हूँ
कि इस के बाद तो सारा जवाल है उस का

Katl Shayari कत्ल शायरी हिंदी में (2022-23) 2 line

ईद है कत्ल मिरा अहल ए तमाशा के लिए
सब गले मिलने लगे जब कि वो जल्लाद आया

रकीब कत्ल हुआ उस की तेग ए अबरू से
हराम जादा था अच्छा हुआ हलाल हुआ

जैसे सज्दे में कत्ल हो कोई
ऐसा होता है चाहतों का मजा

मुझ बे गुनह के कत्ल का आहंग कब तलक
आ अब बिना ए सुल्ह रखें जंग कब तलक

हर कूचा शो ला जार है हर शहर कत्ल गाह
यक जेहती ए हयात के आदाब क्या हुए

कत्ल पर बीड़ा उठा कर तेग क्या बाँधोगे तुम
लो खबर अपनी दहन गुम है कमर मिलती नहीं

वो मेरे कत्ल का मुल्जिम है लोग कहते हैं
वो छुट सके तो मुझे भी गवाह लिख लीजे

उठाया उस ने बीड़ा कत्ल का कुछ दिल में ठाना है
चबाना पान का भी खूँ बहाने का बहाना है

कत्ल की सुन के खबर ईद मनाई मैं ने
आज जिस से मुझे मिलना था गले मिल आया

Read More :Majbooriyan Shayari
Read More :Majboori Shayari
Read More :Majboor Shayari