Khatarnak Attitude Shayari (खतरनाक एटीट्यूड शायरी)

What the Oxford English Dictionary Doesn’t Tell You About Khatarnak Attitude Shayari. Is Tech Making Killer Dosti Better or Worse?

The History of Khatarnak Attitude Shayari. What Would the World Look Like Without Khatarnak Attitude Shayari? Why the Biggest “Myths” About Khatarnak Attitude Shayari May Actually Be Right.

The Top Reasons People Succeed in the Khatarnak Attitude Shayari Industry. How Much Should You Be Spending on Khatarnak Attitude Shayari? 17 Signs You Work With Khatarnak Attitude Shayari. Meet the Steve Jobs of the Khatarnak Attitude Shayari Industry.Khatarnak Attitude Shayari

 

#दोस्त को दौलत की निगाह से मत_देखो वफा करने वाले #दोस्त अक्सर_गरीब हुआ करते हैं…

#आजकल ☝ ज़माने के साथ #चलना_है तो, 🏃‍♂
#आपको 👫 चेहरे बदलने 👤 का हुनर 😌 ज़रूर #आना_चाहिए ।

औकात नहीं है आँख से आँख मिलाने की,
और बात करते है हमारा नाम मिटाने की !!😎😎

कागजो 📄 पर तो #अदालते🏰 चलती है
हम तो #रॉयल 😎 छोरे है
#फैसला_on_the_spot_करते है..

मत उलझो हमसे , हम खुद नहीं समझ पाए अपने आप को, तुम क्या ख़ाक समझोगे हमें

Khatarnak Attitude Shayari 👍 Khatarnak Attitude Shayari
Khatarnak Attitude Shayari in Hindi – खतरनाक एटीट्यूड शायरी इन हिंदी
कुछ लोग मिलके कर रहे है मेरी बुराई।
तुम बेटे इतने सारे और मै अकेला मचा रहा हूँ तबाही।

अगर फितरत हमारी सेहने की ना होती,
तो हिम्मत तुम्हारी कुछ कहने की ना होती।

प्यार से बात करोगे तो प्यार ही पाओगे,
अगर अकड़ के बात की तो मेरी Block List में नजर आओगे।

रोज स्टेटस बदलने से जिंन्दगी नहीं बदलती,
जिंदगी को बदलने के लिये एक स्टेटस काफी है।

झूठी शान के परिंदे ही ज्यादा फड़फड़ाते हैं,
बाज़ की उडान में कभी आवाज़ नहीं होती।

बारुद जैसी है अपुन की शख्सियत,
जहा से गुजरती है, लोग जलना शुरु कर देते हैं।

खेल ताश का हो या जिंदगी का,
अपना इक्का तब ही दिखाना, जब सामने बादशाह हो।

कुछ लोग हमारी हैसियत पूछने लगे,
उनकी शख्सियत बिक जाए इतनी हैसियत है हमारी।

मेरा दिल तोड़ने से पहले मेरे दोस्तो के तरफ देख लेना,
कहीं ऐसा ना हो बिन पैरों घुंघरु मुजरा करना पड़े।

चश्मे तो हम शौक के लिए पहनते है,
वरना कीसी को पटाने के लिए हमारे आंखों के इशारे ही काफी है।

Attitude का अंदाज़ यही से लगा लो,
तुम Player बनना चाहते हो और मै Game Changer।

जीने वाले जी लेते है ज़िन्दगी शान से,
और जलने वाले जलकर राख हो जाते है श्मशान में।

हम किसी का भी कर्ज़ नही रखा करते हैं,
एक सुनते है और दो सुना दिया करते हैं।

अखबार वाला भी हजार बार सोच कर ये खबर छापता है,
क्यों कि मिया भाई से तो सारा शहर कांपता है।

जहाँ से तेरी बदमाशी ख़तम होती हैं,
वह से मेरी नवाबी शुरू होती हैं।

बेवक़्त, बेवजह, बेहिसाब मुस्कुरा देता हूँ,
आधे दुश्मनो को तो यूँ ही हरा देता हूँ।

हमसे उलझना कुछ ऐसा है,
जैसे बारूद के ढेर पर बैठकर चिंगारी से खेलना।

कुछ सही तो कुछ खराब करते है,
इसीलिए लोग हमे बिगड़ा हुआ नवाब कहते है।

हम तो ऐसी लड़की पटायेंगे, जो हो सबसे हटके,
जिसे देखते ही दिल को लगे 440 Volt के झटके।

तुम गर्दन झुकाने की बात करते हो,
हम वो है जो आँख उठाने वालो की गर्दन प्रसाद में बाट देते हैं।

हम आज भी अपने हुनर मे दम रखते है,
होश उड़ जाते है लोगो के जब हम कदम रखते है।

उस जगह पर हमेशा खामोश रहना,
जहाँ दो कौड़ी की लोग अपनी हैसियत के गुण गाते है।

कहते है हर बात जुबां से, हम इशारा नहीं करते,
आसमां पर चलने वाले, जमीं से गुज़ारा नहीं करते,
हर हालात बदलने की हिम्मत है हम में,
वक़्त का हर फैसला हम गँवारा नहीं करते।

ख़ौफ़ और खून हमेशा आँखों में रखो क्योंकि,
हथियारों से सिर्फ दुश्मनो की हड्डिया टूटती है, हौसले नहीं।

भाई बोलने का हक़ मैंने सिर्फ दोस्तों को दिया है,
वरना दुश्मन तो आज भी हमें बाप के नाम से पहचानते हैं।

मेरी हिम्मत को परखने की गुस्ताखी न करना,
पहले भी कई तूफानों का रुख मोड़ चुका हूं।

तेरी बदमाशी का सूरज चाहे जितना मर्जी बुलन्दी पर चमके,
हमारी हदों में चमका तो डूब जायेगा।

सनम तेरी नफरत में वो दम नहीं,
जो मेरी चाहत को मिटा दे,
ये महोब्बत है कोई खेल नहीं,
जो आज हंस के खेल और कल रो के भुला दिया।

इस धरती से से उस अंबर तक दो ही चीज मशहूर है,
एक तो मेरा दीवानापन, दूसरा मेरा भोलापन।

खुशबू बनकर गुलों से उड़ा करते हैं,
धुआं बनकर पर्वतों से उड़ा करते हैं,
हमें क्या रोकेंगे ये ज़माने वाले,
हम परों से नहीं हौसलों से उड़ा करते हैं।

मुश्किलें जरूर है मगर ठहरा नहीं हूँ मै,
मंजिल से ज़रा कह दो अभी पहुँचा नहीं हूँ मै।

हथियार तो शौक के लिए रखे जाते हैं,
खौफ के लिए तो आँखें ही काफी हैं।

सुन बेटा अभी तेरा खेलने का दिन हैं,
दुश्मनी करने का नहीं।

पैदा तो में भी शरीफ हुआ था,
पर शराफत से अपनी कभी नही बनी।

जली को आग और बुझी को राख कहते है,
और जिसका status तुम पढ़ रहे हो,
उसे Attitude का बाप कहते है।

दहशत बनाओ तो हमारे जैसी,
वरना ख़ाली डराना तो कुत्ते भी जानते है।

जो बेहतर होते है उन्हें इनाम मिलता है,
जो बेहतरीन होते है उनके नाम पर इनाम होता है।

दुनियादारी की चादर ओढ़ी है,
पर जिस दिन दिमाग सटका ना,
इतिहास तो इतिहास, भूगोल भी बदल देंगे।

जिन तूफानों में लोगो के झोपड़े उड़ जाते है,
उन तूफानों में तो हम कपड़े सुखाते हैं।

डरपोक है वो लोग जो Online नहीं आते,
साला जिगर चाहिए, टाइम बरबाद करने के।

रेस वो लोग लगाते है, जिसे अपनी किस्मत आजमानी हो,
हम तो वो खिलाडी है, जो अपनी किस्मत के साथ खेलते है।

अच्छी नज़र से देखों तो मुझमे भी संस्कार मिलेंगे,
वरना जुते और लात मिलेंगे।

हाथ में खंज़र ही नहीं, आँखों में पानी भी चाहिए।
मुझे दुश्मन भी, थोड़ा खानदानी चाहिए।

माँ ने सिखाया चीजो को सही जगह पर रखना,
और बाप ने सिखाया लोगो को उनकी औकात में रखना।

बात संस्कार और आदर की होती है,
वरना जो सुन सकता है, वो सुना भी सकता है।

Style ऐसा करो की दुनिया देखती जाये,
और यारी ऐसी करो की दुनिया जलती जाये।

रहते हैं आस-पास ही लेकिन साथ नहीं होते,
कुछ लोग जलते हैं मुझसे बस खाक नहीं होते।

हम तेरी गली में आएंगे कोई रोक के दिखाए,
हम मोहब्बत भी तुझी से करेंगे, साला कोई टोक के दिखाये।

तूफ़ान में ताश के महल नहीं बनते,
रोने से बिगड़े मुकद्दर नहीं बनते,
सारी दुनिया को जीतने का दम रख ऐ बन्दे,
क्यूंकि एक हार से लोग फ़कीर,
और एक जीत से सिकंदर नहीं बनते।

तजुर्बे ने शेर को खामोश रहना सिखाया,
क्यूंकि दहाड़ कर कभी शिकार नहीं किया जाता।