खूबसूरती शायरी – Khubsurti Shayari in Hindi

Khubsurti Shayari – So Simple Even Your Kids Can Do It. Believe In Your Khubsurti Shayari Skills But Never Stop Improving. If You Want To Be A Winner, Change Your Khubsurti Shayari Philosophy Now!.

There’s Big Money In Khubsurti Shayari. How To Make Your Khubsurti Shayari Look Amazing In 5 Days. Take The Stress Out Of Khubsurti Shayari. Get Rid of Khubsurti Shayari Once and For All.

Old School Khubsurti Shayari. How To Become Better With Khubsurti Shayari In 10 Minutes. What Alberto Savoia Can Teach You About Khubsurti Shayari.Khubsurti Shayari

 

यूँ न निकला करों आज कल रात को,
चाँद छुप जाएगा देख कर आप को.

 

तारीफ करूँ क्या तेरी,
कुछ अल्फ़ाज ही ना मिले,
जब से देखा है तुझको
दिल में अरमान है जगे.

 

दुनिया में तेरा हुस्न मेरी जां सलामत रहे,
सदियों तलक जमीं पे तेरी कयामत रहे.

 

जब मैंने चाँद को अपनी चाँद दिखाया,
रात में निकला पर हुस्न पर नहीं इतराया.

 

मेरे दिल के धड़कनों की वो जरूरत सी है,
तितलियों सी नाजुक, परियों जैसी खूबसूरत सी है.

 

जब वो सँवर कर मेरे सामने आयें,
वो करोड़ो में सँवरी
और चिल्लर में हम तारीफ़ कर पायें.

 

ख्वाहिश नहीं तारीफ़ की किसी यार से,
मुझे तो इश्क़ हो गया, आज अपने श्रृंगार से.

 

तारीफों से जी भरा सा है,
इक वो नहीं तो सब अधूरा सा है.