Khwaab Shayari ख़्वाब शायरी हिंदी में (2022-23)

Khwaab Shayari In Hindi | ख़्वाब शायरी हिंदी में

* Shayari In Hindi (* हिंदी में) सम्बंधित हर शायरी पोस्ट के अन्दर है.Khwaab Shayari In Hindi | ख़्वाब शायरी हिंदी में * Shayari In Hindi (* हिंदी में) सम्बंधित हर शायरी पोस्ट के अन्दर है.

Khwaab Shayari ख़्वाब शायरी हिंदी में (2022-23) In Hindi

Khwaab Shayari
बजा है ख्वाब नवर्दी प ख्वाब ऐसे हों
खुले जो आँख तो अपना ही घर खंडर न लगे

ख्वाब ही ख्वाब कब तलक देखूँ
काश तुझ को भी इक झलक देखूँ

ख़्वाब की तरह बिखर जाने को जी चाहता है
ऐसी तन्हाई कि मर जाने को जी चाहता है

Khwaab Shayari ख़्वाब शायरी हिंदी में (2022-23) हिंदी में

और तो क्या था बेचने के लिए
अपनी आँखों के ख़्वाब बेचे हैं

Khwaab Shayari ख़्वाब शायरी हिंदी में (2022-23) 2 line

आशिक़ी में ‘मीर’ जैसे ख़्वाब मत देखा करो
बावले हो जाओगे महताब मत देखा करो

Read More :Rojgar Shayari
Read More :Rahat Shayari
Read More :Rangbaaz Shayari