Khwab Shayari | ख्वाब शायरी 468+

Why Most Khwab Shayari Fail. How To Improve At Khwab Shayari In 60 Minutes. Best 50 Tips For Khwab Shayari. 3 Mistakes In Khwab Shayari That Make You Look Dumb.

52 Ways To Avoid Khwab Shayari Burnout. Here Is What You Should Do For Your Khwab Shayari. 5 Incredibly Useful Khwab Shayari Tips For Small Businesses.

How To Teach Khwab Shayari Like A Pro. You Don’t Have To Be A Big Corporation To Start Khwab Shayari. Ho To (Do) Khwab Shayari Without Leaving Your Office(House).Khwab Shayari

 

कोई मिला ही नहीं जिस को सौपते मोहसिन,
हम अपने ख्वाब की खुशबु, ख्याल का मौसम।

 

खुदा का शुक्र है कि उसने ख्वाब बना दिये,
वरना तुम्हें देखने की हसरत रह ही जाती।

 

ताबीर जो मिल जाती तो एक ख्वाब बहुत था,
जो शख्स गँवा बैठे है नायाब बहुत था,
मै कैसे बचा लेता भला कश्ती-ए-दिल को,
दरिया-ए-मुहब्बत मे सैलाब बहुत था।

 

ख़्वाब वैसे तो इक इनायत है,
आँख खुल जाए तो मुसीबत है

 

तुझे ख्वाबो में पा कर दिल का करार खो ही जाता है,
मैं जितना रोकूँ खुद को तुझसे प्यार हो ही जाता है…

 

आ भी जाओ मेरी आँखों के रूबरू अब तुम,
कितना ख्वावों में तुझे और तलाशा जाए।