Lajawab Shayari लाजवाब शायरी हिंदी में (2022-23)

Lajawab Shayari In Hindi | लाजवाब शायरी हिंदी में

* Shayari In Hindi (* हिंदी में) सम्बंधित हर शायरी पोस्ट के अन्दर है.Lajawab Shayari In Hindi | लाजवाब शायरी हिंदी में * Shayari In Hindi (* हिंदी में) सम्बंधित हर शायरी पोस्ट के अन्दर है.

Lajawab Shayari

सूरत तो इब्तिदा से तिरी लाजवाब थी
नाज ओ अदा ने और तरह दार कर दिया

सुरमे का तिल बना के रुख ए लाजवाब में
नुक्ता बढ़ा रहे हो खुदा की किताब में

हजार चुप सही पर उस का बोलता चेहरा
खमोश रह के हमें लाजवाब कर देगा

जवाब ढूँड के सारे जहाँ से जब लौटे
हमें तो कर गया यक लख्त लाजवाब कोई

मैं सच कहूँगी मगर फिर भी हार जाऊँगी
वो झूट बोलेगा और लाजवाब कर देगा

यूँ भी हजारों लाखों में तुम इंतिखाब हो
पूरा करो सवाल तो फिर लाजवाब हो

Read More :Udaasi Shayari
Read More :Tum Shayari
Read More :Sahara Shayari