मुहब्बत शायरी | Muhabbat Shayari

Muhabbat Shayari | मुहब्बत शायरी

मुहब्बत शायरी | Muhabbat Shayari In Hindi

मुहब्बत शायरी | Muhabbat Shayari हिंदी में | शायरी, कोट्स और स्टेटस पढ़ें हिंदी में (Read Shayari, Quotes & Status in Hindi) : हेलो दोस्तों! आज आपको इस पेज पर कुछ मुहब्बत शायरी | Muhabbat Shayari मिलेंगे। इन्हे हमारी टीम की रिसर्च और आप लोगों के द्वारा भेजे कंटेंट से अपडेट करते है। हम पेज को अलग अलग समय पर बदलाब करते है। आपको इस मुहब्बत शायरी | Muhabbat Shayari के लिए कोई संदेह है, तो कृपया आप कॉमेंट करें। और मुहब्बत शायरी | Muhabbat Shayari के अलावा जाने! ...की यह वेबसाइट किस-किस टॉपिक पर पेज तैयार कर चुकी है। जानने के लिए यहां से हमारी वेबसाइट के बारे में पढ़ें!

मुहब्बत शायरी | Muhabbat Shayari In Hindi | मुहब्बत शायरी | Muhabbat Shayari हिंदी में

Muhabbat Shayari In Hindi | मुहब्बत शायरी हिंदी में

* Shayari In Hindi (* हिंदी में) सम्बंधित हर शायरी पोस्ट के अन्दर है.Muhabbat Shayari In Hindi | मुहब्बत शायरी हिंदी में * Shayari In Hindi (* हिंदी में) सम्बंधित हर शायरी पोस्ट के अन्दर है.

Muhabbat Shayari
मोहब्बत और माइल जल्द बाजी क्या कयामत है
सुकून ए दिल बनेगा इज्तिराब आहिस्ता आहिस्ता

किस दर्जा दिल शिकन थे मोहब्बत के हादसे
हम जिंदगी में फिर कोई अरमाँ न कर सके

कितने शोरीदा सर मुहब्बत में
हो गए कूचा ए सनम की खाक

मोहब्बत के मरीजों का मुदावा है जरा मुश्किल
उतरता है सदा उन का बुखार आहिस्ता आहिस्ता

खींच देता मैं जमाने पे मोहब्बत के नुकूश
मेरे कब्जे में अगर खामा ए शहपर होता

ख्वाहिश ए सूद थी सौदे में मुहब्बत के वले
सर ब सर इस में जियाँ था मुझे मालूम न था

जहर है मेरे रग ओ पै में मोहब्बत शायद
अपने ही डंक से बिच्छू की तरह मर जाऊँ

मोहब्बत बद गुमाँ हो जाए तो जिंदा नहीं रहती
असर दिल पर तुम्हारी बे रुखी से कुछ नहीं होता

बाद ए नफरत फिर मोहब्बत को जबाँ दरकार है
फिर अजीज ए जाँ वही उर्दू जबाँ होने लगी

जमीन ए दिल पे मोहब्बत की आब यारी को
बहुत ही टूट के बरसी घटा उदासी की

शायद इसी का नाम मुहब्बत है शेफ्ता
इक आग सी है सीने के अंदर लगी हुई

मुहब्बत शायरी | Muhabbat Shayari 2 line or 4 line

मुहब्बत शायरी | Muhabbat Shayari 2 लाइन या 4 लाइन नीचे दे रहें!

दिल ओ नजर की बका है फकत मोहब्बत में
दिल ओ नजर से कोई और काम मत लेना

मोहब्बत नेक ओ बद को सोचने दे गैर मुमकिन है
बढ़ी जब बे खुदी फिर कौन डरता है गुनाहों से

मोहब्बत अदावत वफा बे रुखी
किराए के घर थे बदलते रहे

मोहब्बत रही चार दिन जिंदगी में
रहा चार दिन का असर जिंदगी भर

आगाज ए मोहब्बत से अंजाम ए मोहब्बत तक
गुजरा है जो कुछ हम पर तुम ने भी सुना होगा

Read Also:Kashmakash Shayari 
Read Also:Katl Shayari 
Read Also:Matlab Shayari 

मुहब्बत शायरी | Muhabbat Shayari for मुहब्बत शायरी | Muhabbat Shayari

वेबसाइट मुख्य पृष्ट पर नए पोस्ट है। पोस्ट में जानें, हम नीचे कुछ अन्य संबंधित मुहब्बत शायरी | Muhabbat Shayari भेज रहे है। अभी कभी कुछ पृष्ट खाली दिखाई देंगे। उसके लिए आप हमारे संपर्क सूत्र से जुड़े, और अपडेट हेतु छोटी सी बात कहें।

मुहब्बत शायरी | Muhabbat Shayari हिंदी में पढ़ें

कुछ पेज अभी भी आपके प्रतिक्रिया और अपडेट के लिए खाली है। आप भी इस वेबसाइट पर कुछ शायरी कोट्स स्टेटस पहुंचा सकते हैं। हमारी टीम 24 घंटे से 48 घंटे की कार्यवाही करके आपको सूचित करेगी। यदि आप मुहब्बत शायरी | Muhabbat Shayari को पेज पर जोड़ना चाहते है, तो आप यहां से वेबसाइट पर अपना कंटेंट लिखें !

मुहब्बत शायरी | Muhabbat Shayari 2 Line

हमारी टीम कुछ नए चेंज और बदलाब कर रही है, जिससे कुछ दिन लग सकते है। जैसे ही ये मुहब्बत शायरी | Muhabbat Shayari के लिए कुछ अन्य को जोड़ा जाएगा, तो आपको यह अतिरिक्त और भी शब्द मिलेंगे। इसके अलावा जान लें, ... की ओर क्या नया आने वाला है?

मुहब्बत शायरी | Muhabbat Shayari 2022-23

हमारी टीम कई लेख को अपडेट करने और मुहब्बत शायरी | Muhabbat Shayari पेज को ओर बढ़ाने हेतु उत्सुक है। यदि आपके पास भी कोई मुहब्बत शायरी | Muhabbat Shayari या संबंधित टॉपिक जानकारी है। तो हमसे संपर्क कीजिए या कॉमेंट में उस जानकारी को घुसा दीजिए। टीम आपके प्रयास और अपडेट को परख के बाद जोड़ेगी। साथ ही कुछ नए टॉपिक के विचार हेतु भी आपसे साझा किया जा रहा है। वर्ष 2023 प्रारंभ होने तक हम मुहब्बत शायरी | Muhabbat Shayari और पोस्ट कई सारे बदलाव के लिए उत्सुक है। एन्जॉय शायरी के साथ जुड़कर विज्ञापन या कोई अन्य प्रचार के लिए आप हमारी टीम से संपर्क करें !

पढ़ने के लिए धन्यवाद,


TAG: मुहब्बत शायरी | Muhabbat Shayari in hindi, shayari on मुहब्बत शायरी | Muhabbat Shayari, मुहब्बत शायरी | Muhabbat Shayari for मुहब्बत शायरी | Muhabbat Shayari, मुहब्बत शायरी | Muhabbat Shayari in english, मुहब्बत शायरी | Muhabbat Shayari status in hindi, quotes on मुहब्बत शायरी | Muhabbat Shayari in hindi, shayari for मुहब्बत शायरी | Muhabbat Shayari, best मुहब्बत शायरी | Muhabbat Shayari in 2022, मुहब्बत शायरी | Muhabbat Shayari by मुहब्बत शायरी | Muhabbat Shayari, मुहब्बत शायरी | Muhabbat Shayari 2 line, मुहब्बत शायरी | Muhabbat Shayari 4 line, मुहब्बत शायरी | Muhabbat Shayari 2 लाइन, मुहब्बत शायरी | Muhabbat Shayari 4 लाइन, मुहब्बत शायरी | Muhabbat Shayari of मुहब्बत शायरी | Muhabbat Shayari.