Nadan Shayari नादान शायरी हिंदी में (2022-23)

Nadan Shayari In Hindi | नादान शायरी हिंदी में

* Shayari In Hindi (* हिंदी में) सम्बंधित हर शायरी पोस्ट के अन्दर है.Nadan Shayari In Hindi | नादान शायरी हिंदी में * Shayari In Hindi (* हिंदी में) सम्बंधित हर शायरी पोस्ट के अन्दर है.

Nadan Shayari नादान शायरी हिंदी में (2022-23) In Hindi

Nadan Shayari
नादान कह रहे हैं जिसे आफ्ताब ए हश्र
जर्रा है उस के रू ए दरख्शाँ के सामने

ने मत ए दुनिया की जिन को चाह है नादान हैं
दाया ए अय्याम के पिस्ताँ हबाब ए शीर है

नादान मेरा दिल बहक जाए न कहीं
शानों पे गेसूओं को बिखेरा न कीजिए

Nadan Shayari नादान शायरी हिंदी में (2022-23) हिंदी में

भला आदमी था प नादान निकला
सुना है किसी से मोहब्बत करे है

Nadan Shayari नादान शायरी हिंदी में (2022-23) 2 line

होशियारी दिल ए नादान बहुत करता है
रंज कम सहता है एलान बहुत करता है

जमाने ने मुझ जुरआ कश को निदान
किया खाक ओ खिश्त ए सर ए खुम किया

नियाज ए इश्क को समझा है क्या ऐ वाइज ए नादाँ
हजारों बन गए काबे जबीं मैं ने जहाँ रख दी

पहेली जिंदगी की कब तू ऐ नादान समझेगा
बहुत दुश्वारियाँ होंगी अगर आसान समझेगा

मुझ सा कोई जहान में नादान भी न हो
कर के जो इश्क कहता है नुकसान भी न हो

चश्म ए बद दूर वो भोले भी हैं नादाँ भी हैं
जुल्म भी मुझ पे कभी सोच समझ कर न हुआ

ये बाजी मोहब्बत की बाजी है नादाँ
इसे जीतना है तो हारे चला जा

पाल ले इक रोग नादाँ जिंदगी के वास्ते
सिर्फ सेह्हत के सहारे उम्र तो कटती नहीं

नादाँ से एक उम्र रहा मुझ को रब्त ए इश्क
दाना से अब पड़ा है सरोकार देखना

तड़ावे के लिए है ख्वान पोश महर ओ मह नादाँ
फरेब ए चर्ख मत खाना कहीं, ये ख्वान खाली है

शैख जी हम तो हैं नादाँ पर उसे आने दो
हम भी पूछेंगे हुई आप की दानाई क्या

तू मर्द ए मोमिन है अपनी मंजिल को आसमानों पे देख नादाँ
कि राह ए जुल्मत में साथ देगा कोई चराग ए अलील कब तक

सुनते सुनते उन्हें नींद आ गई नादाँ दिल ने
शिकवा ए हिज्र को अफ्साना बना कर छोड़ा

जो कि नादाँ है वो क्या जाने तिरी चाहत की कद्र
ऐ परी दीवाना बनना काम है होशियार का

तूफाँ का गिला क्या करता है तूफाँ को दुआएँ दे नादाँ
हर मौज तुझे ठोकर दे कर साहिल की तरफ ले जाती है

Read Also:Deewana Shayari 
Read Also:Ajnabee Shayari 
Read Also:Farsi Shayari