Nafarat Shayari नफरत शायरी हिंदी में (2022-23)

Nafarat Shayari In Hindi | नफ़रत शायरी हिंदी में

* Shayari In Hindi (* हिंदी में) सम्बंधित हर शायरी पोस्ट के अन्दर है.Nafarat Shayari In Hindi | नफ़रत शायरी हिंदी में * Shayari In Hindi (* हिंदी में) सम्बंधित हर शायरी पोस्ट के अन्दर है.

Nafarat Shayari नफरत शायरी हिंदी में (2022-23) In Hindi

Nafarat Shayari

जौहर तुम्हें नफरत है बहुत बादा कशी से
बरसात में देखेंगे हम इंकार तुम्हारा

लोग नफरत की फजाओं में भी जी लेते हैं
हम मोहब्बत की हवा से भी डरा करते हैं

Nafarat Shayari नफरत शायरी हिंदी में (2022-23) हिंदी में

इस कदर ऊँची हुई दीवार ए नफरत हर तरफ
आज हर इंसाँ से इंसाँ की पजीराई गई

Nafarat Shayari नफरत शायरी हिंदी में (2022-23) 2 line

शोर में नफरत के मेरी बात जाएअ हो गई
मेरा कहना और था उन का समझना और था

है शादाब नफरत का जंगल बहुत ही
मोहब्बत का हर पेड़ सूखा पड़ा है

शोहरत की रौशनी हो कि नफरत की तीरगी
क्या क्या उसे दिया है खुदा ने पता करो

नफरत के खजाने में तो कुछ भी नहीं बाकी
थोड़ा सा गुजारे के लिए प्यार बचाएँ

नए साल में पिछली नफरत भुला दें
चलो अपनी दुनिया को जन्नत बना दें

नफरत से बचा कर तू उल्फत को सजा दिल में
पैगाम मोहब्बत का हर बार दिए जाना

न मुदारात हमारी न अदू से नफरत
न वफा ही तुम्हें आई न जफा ही आई

अदम वालों की सोहबत से भी नफरत हो गई अब तो
कोई वीराना अब सू ए अदम आबाद करते हैं

जोरों पे सलीम अब के है नफरत का बहाव
जो बच के निकल आएगा तैराक वही है

पिला दे ओक से साकी जो हम से नफरत है
पियाला गर नहीं देता न दे शराब तो दे

कागज पे उगल रहा है नफरत
कम जर्फ अदीब हो गया है

मुझ में थोड़ी सी जगह भी नहीं नफरत के लिए
मैं तो हर वक्त मोहब्बत से भरा रहता हूँ

तुम को माहौल से हो जाएगी नफरत आजर
इतने नजदीक से देखा न करो यारों को

Read Also:Hasna Shayari 
Read Also:Apna Shayari 
Read Also:Mahadev Shiva Quotes