नज़रों शायरी | Nazron Shayari

Nazron Shayari | नजरों शायरी

नज़रों शायरी | Nazron Shayari In Hindi

नज़रों शायरी | Nazron Shayari हिंदी में | शायरी, कोट्स और स्टेटस पढ़ें हिंदी में (Read Shayari, Quotes & Status in Hindi) : हेलो दोस्तों! आज आपको इस पेज पर कुछ नज़रों शायरी | Nazron Shayari मिलेंगे। इन्हे हमारी टीम की रिसर्च और आप लोगों के द्वारा भेजे कंटेंट से अपडेट करते है। हम पेज को अलग अलग समय पर बदलाब करते है। आपको इस नज़रों शायरी | Nazron Shayari के लिए कोई संदेह है, तो कृपया आप कॉमेंट करें। और नज़रों शायरी | Nazron Shayari के अलावा जाने! ...की यह वेबसाइट किस-किस टॉपिक पर पेज तैयार कर चुकी है। जानने के लिए यहां से हमारी वेबसाइट के बारे में पढ़ें!

नज़रों शायरी | Nazron Shayari In Hindi | नज़रों शायरी | Nazron Shayari हिंदी में

Nazron Shayari In Hindi | नज़रों शायरी हिंदी में

* Shayari In Hindi (* हिंदी में) सम्बंधित हर शायरी पोस्ट के अन्दर है.Nazron Shayari In Hindi | नज़रों शायरी हिंदी में * Shayari In Hindi (* हिंदी में) सम्बंधित हर शायरी पोस्ट के अन्दर है.

Nazron Shayari
दिल से दिल नजरों से नजरों के उलझने का समाँ
जैसे सहराओं में नींद आई हो दीवानों को

वक्त के कद्र दाँ की नजरों में
जिंदगी मुख्तसर नहीं होती

तिरछी नजरों से न देखो आशिक ए दिल गीर को
कैसे तीर अंदाज हो सीधा तो कर लो तीर को

जिंदगी मुझ को मिरी नजरों में शर्मिंदा न कर
मर चुका है जो बहुत पहले उसे जिंदा न कर

हजारों पैकर ए उम्मीद नजरों से हुए ओझल
जो कुछ बाकी रहे थे वो भी पिन्हाँ होते जाते हैं

इस कदर टूट कर मेरी नजरों में न देखो वर्ना
तुम्हारी नजरों को मेरी नजरों की नजर न लग जाए

पहली बार नजरों ने चाँद बोलते देखा
हम जवाब क्या देते खो गए सवालों में

नजरों की तशफ्फी का भी कर दे कोई सामाँ
दिल के तो बहलने को तिरा नाम बहुत है

नजरों से नापता है समुंदर की वुसअतें
साहिल पे इक शख्स अकेला खड़ा हुआ

उसे पाक नजरों से चूमना भी इबादतों में शुमार है
कोई फूल लाख करीब हो कभी मैं ने उस को छुआ नहीं

अब तो जो शय है मिरी नजरों में है ना पाएदार
याद आया मैं कि गम को जावेदाँ समझा था मैं

नज़रों शायरी | Nazron Shayari 2 line or 4 line

नज़रों शायरी | Nazron Shayari 2 लाइन या 4 लाइन नीचे दे रहें!

नजरों के सिलसिले थे रिश्ता कोई न था
किस से करें शिकायत अपना कोई न था

सब की नजरों में हो साकी ये जरूरी है मगर
सब पे साकी की नजर हो ये जरूरी तो नहीं

शाम तक सुब्ह की नजरों से उतर जाते हैं
इतने समझौतों पे जीते हैं कि मर जाते हैं

गैर की नजरों से बच कर सब की मर्जी के खिलाफ
वो तिरा चोरी छुपे रातों को आना याद है

नजरों में हुस्न दिल में तुम्हारा खयाल है
इतने करीब हो कि तसव्वुर मुहाल है

Read Also:Yakeen Shayari 
Read Also:Faltu Shayari 
Read Also:Chaand Shayari 

नज़रों शायरी | Nazron Shayari for नज़रों शायरी | Nazron Shayari

वेबसाइट मुख्य पृष्ट पर नए पोस्ट है। पोस्ट में जानें, हम नीचे कुछ अन्य संबंधित नज़रों शायरी | Nazron Shayari भेज रहे है। अभी कभी कुछ पृष्ट खाली दिखाई देंगे। उसके लिए आप हमारे संपर्क सूत्र से जुड़े, और अपडेट हेतु छोटी सी बात कहें।

नज़रों शायरी | Nazron Shayari हिंदी में पढ़ें

कुछ पेज अभी भी आपके प्रतिक्रिया और अपडेट के लिए खाली है। आप भी इस वेबसाइट पर कुछ शायरी कोट्स स्टेटस पहुंचा सकते हैं। हमारी टीम 24 घंटे से 48 घंटे की कार्यवाही करके आपको सूचित करेगी। यदि आप नज़रों शायरी | Nazron Shayari को पेज पर जोड़ना चाहते है, तो आप यहां से वेबसाइट पर अपना कंटेंट लिखें !

नज़रों शायरी | Nazron Shayari 2 Line

हमारी टीम कुछ नए चेंज और बदलाब कर रही है, जिससे कुछ दिन लग सकते है। जैसे ही ये नज़रों शायरी | Nazron Shayari के लिए कुछ अन्य को जोड़ा जाएगा, तो आपको यह अतिरिक्त और भी शब्द मिलेंगे। इसके अलावा जान लें, ... की ओर क्या नया आने वाला है?

नज़रों शायरी | Nazron Shayari 2022-23

हमारी टीम कई लेख को अपडेट करने और नज़रों शायरी | Nazron Shayari पेज को ओर बढ़ाने हेतु उत्सुक है। यदि आपके पास भी कोई नज़रों शायरी | Nazron Shayari या संबंधित टॉपिक जानकारी है। तो हमसे संपर्क कीजिए या कॉमेंट में उस जानकारी को घुसा दीजिए। टीम आपके प्रयास और अपडेट को परख के बाद जोड़ेगी। साथ ही कुछ नए टॉपिक के विचार हेतु भी आपसे साझा किया जा रहा है। वर्ष 2023 प्रारंभ होने तक हम नज़रों शायरी | Nazron Shayari और पोस्ट कई सारे बदलाव के लिए उत्सुक है। एन्जॉय शायरी के साथ जुड़कर विज्ञापन या कोई अन्य प्रचार के लिए आप हमारी टीम से संपर्क करें !

पढ़ने के लिए धन्यवाद,


TAG: नज़रों शायरी | Nazron Shayari in hindi, shayari on नज़रों शायरी | Nazron Shayari, नज़रों शायरी | Nazron Shayari for नज़रों शायरी | Nazron Shayari, नज़रों शायरी | Nazron Shayari in english, नज़रों शायरी | Nazron Shayari status in hindi, quotes on नज़रों शायरी | Nazron Shayari in hindi, shayari for नज़रों शायरी | Nazron Shayari, best नज़रों शायरी | Nazron Shayari in 2022, नज़रों शायरी | Nazron Shayari by नज़रों शायरी | Nazron Shayari, नज़रों शायरी | Nazron Shayari 2 line, नज़रों शायरी | Nazron Shayari 4 line, नज़रों शायरी | Nazron Shayari 2 लाइन, नज़रों शायरी | Nazron Shayari 4 लाइन, नज़रों शायरी | Nazron Shayari of नज़रों शायरी | Nazron Shayari.