Parwah Shayari परवाह शायरी हिंदी में (2022-23)

Parwah Shayari In Hindi | परवाह शायरी हिंदी में

* Shayari In Hindi (* हिंदी में) सम्बंधित हर शायरी पोस्ट के अन्दर है.Parwah Shayari In Hindi | परवाह शायरी हिंदी में * Shayari In Hindi (* हिंदी में) सम्बंधित हर शायरी पोस्ट के अन्दर है.

Parwah Shayari परवाह शायरी हिंदी में (2022-23) In Hindi

Parwah Shayari

खुद कुशी इक आखिरी कोशिश है जिंदा रहने की
खुद कुशी करने को इक परवाह भी तो चाहिए

काश तुम्हारी आग बुझा पाता मैं,
काश तुम्हारे दाग मिटा पाता मैं,
करनी न पड़ती परवाह ज़माने की,
काश इतनी हिम्मत जुटा पाता मैं।

Parwah Shayari परवाह शायरी हिंदी में (2022-23) हिंदी में

दुनिया भूल गया मैं तुझको याद करते करते,
और तु मुझे भूल गई निया कि परवाह करते करते।

Parwah Shayari परवाह शायरी हिंदी में (2022-23) 2 line

कर न कुछ ऐसा कि ज़माना करे तुम पर सवालात,
खुद की परवाह नहीं बस फिक्रमंद हैं तेरे ख़ातिर मेरे जज़्बात।

Read Also:Rona Shayari 
Read Also:Badhiya Shayari 
Read Also:Dariya Shayari