Purana Shayari पुराना शायरी हिंदी में (2022-23)

Purana Shayari In Hindi | पुराना शायरी हिंदी में

* Shayari In Hindi (* हिंदी में) सम्बंधित हर शायरी पोस्ट के अन्दर है.Purana Shayari In Hindi | पुराना शायरी हिंदी में * Shayari In Hindi (* हिंदी में) सम्बंधित हर शायरी पोस्ट के अन्दर है.

Purana Shayari पुराना शायरी हिंदी में (2022-23) In Hindi

Purana Shayari
दिल एक सदियों पुराना उदास मंदिर है
उमीद तरसा हुआ प्यार देव दासी का

कोई पुराना खत कुछ भूली बिसरी याद
जख्मों पर वो लम्हे मरहम होते हैं

नया चार दिन में पुराना हुआ
यही सब हुआ तो नया क्या हुआ

Purana Shayari पुराना शायरी हिंदी में (2022-23) हिंदी में

जब पुराना लहजा खो देता है अपनी ताजगी
इक नई तर्ज ए नवा ईजाद कर लेते हैं हम

Purana Shayari पुराना शायरी हिंदी में (2022-23) 2 line

इक गजल लिक्खी तो गम कोई पुराना जागा
फिर उसी गम के सबब एक गजल और कही

पुराना जहर नए नाम से मिला है मुझे
वो आस्तीन नहीं केंचुली बदल रहा था

आप के तगाफुल का सिलसिला पुराना है
उस तरफ निगाहें हैं इस तरफ निशाना है

मुद्दतों बाद उठाए थे पुराने कागज
साथ तेरे मिरी तस्वीर निकल आई है

पुराने पत्तों को झाड़ देना नए नवीलों को राह देना
खुदा के बंदे अगर ये कार ए खुदा नहीं है तो और क्या है

पुराने ख्वाबों से रेजा रेजा बदन हुआ है
ये चाहता हूँ कि अब नया कोई ख्वाब देखूँ

ये उस के प्यार की बातें फकत किस्से पुराने हैं
भला कच्चे घड़े पर कौन दरिया पार करता है

आओ पुरानी याद के शो लों में ताप लें
कितने हैं हाथ सर्द मुलाकात की तरह

दिल की बस्ती पुरानी दिल्ली है
जो भी गुजरा है उस ने लूटा है

पुराने हैं ये सितारे फलक भी फर्सूदा
जहाँ वो चाहिए मुझ को कि हो अभी नौ खेज

हमारे जख्म ए तमन्ना पुराने हो गए हैं
कि उस गली में गए अब जमाने हो गए हैं

सब ख्वाब पुराने हैं हर चंद फसाने हैं
हम रोज बसाते हैं आँखों में नई दुनिया

पुरानी देख कर तस्वीर तेरी
नया हर दिन गुजरता जा रहा है

उतार फेंकूँ बदन से फटी पुरानी कमीस
बदन कमीस से बढ़ कर कटा फटा देखूँ

Read Also:Jaam Shayari 
Read Also:Ghayal Shayari 
Read Also:Khas Shayari