Raat Shayari रात शायरी हिंदी में (2022-23)

Raat Shayari In Hindi | रात शायरी हिंदी में

* Shayari In Hindi (* हिंदी में) सम्बंधित हर शायरी पोस्ट के अन्दर है.Raat Shayari In Hindi | रात शायरी हिंदी में * Shayari In Hindi (* हिंदी में) सम्बंधित हर शायरी पोस्ट के अन्दर है.

Raat Shayari
रात को रात कह दिया मैं ने
सुनते ही बौखला गई दुनिया

बात वो आधी रात की रात वो पूरे चाँद की
चाँद भी ऐन चैत का उस पे तिरा जमाल भी

रात की रात बहुत देख ली दुनिया तेरी
सुब्ह होने को है अब तर्ज को सो जाने दे

रात गुजरते शायद थोड़ा वक्त लगे
धूप उन्डेलो थोड़ी सी पैमाने में

देर तक रौशनी रही कल रात
मैं ने ओढ़ी थी चाँदनी कल रात

आज की रात दिवाली है दिए रौशन हैं
आज की रात ये लगता है मैं सो सकता हूँ

इश्क के शोले को भड़काओ कि कुछ रात कटे
दिल के अंगारे को दहकाओ कि कुछ रात कटे

रात दिन तू रहे रकीबाँ संग
देखना तेरा मुझ मुहाल हुआ

अँधेरी रात को मैं रोज ए इश्क समझा था
चराग तू ने जलाया तो दिल बुझा मेरा

अपने चारों सम्त दीवारें उठाना रात दिन
रात दिन फिर सारी दीवारों में दर करना मुझे

दुख्तर ए रज से रात सोहबत थी
शैख जी का मगर वुजू न गया

दिन रात मय कदे में गुजरती थी जिंदगी
अख्तर वो बे खुदी के जमाने किधर गए

रात दिन नाकूस कहते हैं ब आवाज ए बुलंद
दैर से बेहतर है काबा गर बुतों में तू नहीं

रात दिन गर्दिश में हैं सात आसमाँ
हो रहेगा कुछ न कुछ घबराएँ क्या

Read Also:Jhoot Shayari 
Read Also:Friendship Day Quotes 
Read Also:Ittefaq Shayari