Roothane Manane Wali Shayari | रूठने मानने वाली शायरी

A Surprising Tool To Help You Roothane Manane Wali Shayari. 5 Problems Everyone Has With Roothane Manane Wali Shayari – How To Solved Them. How To Take The Headache Out Of Roothane Manane Wali Shayari.

Rules Not To Follow About Roothane Manane Wali Shayari. Fast-Track Your Roothane Manane Wali Shayari. How To Deal With(A) Very Bad Roothane Manane Wali Shayari. At Last, The Secret To Roothane Manane Wali Shayari Is Revealed.Roothane Manane Wali Shayari

 

ये रूठना, मनाना अदाएँ हैं मोहब्बत की
चटपटा न हो तो खाने में मज़ा क्या है

 

नाकाम थीं मेरी सब कोशिशें उस को
मनाने की पता नहीं कहां से सीखी
जालिम ने अदाएं रूठ जाने की.

 

हम गए थे उनको मनाने के लिए,वो
खफा अच्छे लगे हमने खफा रहने दिया।

 

तुम रूठ गए तो हम मनाने आ जाएंगे
आप पर हम अपना हक़ जताने आ जायेगे.

 

रूठना मनाना ये है इश्क़ का पहला उसूल
सोच कर क़दम रखना हो गर तुम्हें ये क़ुबूल.

 

अब तो यूँ रुठना भी छोड़ दिया,
क्यूंकि अब कोई मानाने वाला नही।

 

तू हजार बार भी रूठे तो मना लूंगा तुझे
मगर देख मोहब्बत में शामिल कोई दूसरा न हो.