Suprabhat Shayari | 296+ सुप्रभात शायरी सुबह भेजें

5 Ways Of Suprabhat Shayari That Can Drive You Bankrupt – Fast!. 7 Easy Ways To Make Suprabhat Shayari Faster. Suprabhat Shayari And Love – How They Are The Same.

Don’t Be Fooled By Suprabhat Shayari. 5 Ways You Can Get More Suprabhat Shayari While Spending Less. 3 Things Everyone Knows About Suprabhat Shayari That You Don’t.

suprabhat shayari

आज सुबह सूरज बिलकुल आप जैसा निकला; बिलकुल वही ख़ूबसूरती लिए; वही नूर; वही गुरुर; वही सुरूर; और वही आपकी तरह हमसे कोसो (बहुत) दूर। सुप्रभात!
प्यार हुआ और दिल टूट गया; जिंदगी का मनोबल छूट गया; यह सब सच नहीं है; बस आँख खुली और सपना टूट गया। सुप्रभात।
मौसम की बहार अच्छी हो; फूलों की कलियाँ कच्ची हों; हमारे ये रिश्ते सच्चे हों; रब तेरे से बस एक दुआ है कि; मेरे यार कि हर सुबह अच्छी हो। सुप्रभात।
दांतों को बराबर घिस डालने का; मोती के माफ़िक चमका डालने का; हाथ में एक कप चाय लेने का; और सभी दोस्तों को बोल डालने का। “सुबह हो गई मामू!” बोले तो – गुड वाली मोर्निंग।
सुबह की धूप कुछ यादों के साथ आती है; खिलते फूलों से मीठी खुशबु आती है; हर सुबह आपको नये रास्ते दिखाती है; सूरज की किरणें आपके जीवन को रंगीन बनाती हैं। सुप्रभात!
कलियों के खिलने के साथ; एक प्यारे एहसास के साथ; एक नये विश्वास के साथ; आपका दिन शुरू हो एक मीठी मुस्कान के साथ। सुप्रभात!