Udasi Shayari | उदासी शायरी 471+

3 Ways Create Better Udasi Shayari With The Help Of Your Dog. 3 Ways To Master Udasi Shayari Without Breaking A Sweat. How I Improved My Udasi Shayari In One Easy Lesson. Now You Can Have Your Udasi Shayari Done Safely.

3 Ways Twitter Destroyed My Udasi Shayari Without Me Noticing. Beware The Udasi Shayari Scam. How To Learn Udasi Shayari. Udasi Shayari Is Essential For Your Success.Udasi Shayari

 

मुद्दत गुजर गई कि यह आलम है मुस्तक़िल,
कोई सबब नहीं है मगर दिल उदास है।

 

muddat gujar gaee ki yah aalam hai mustaqil,
koee sabab nahin hai magar dil udaas hai.

 

रात भर की उदासियों के बाद,
ये भी एक हुनर ही मानो,
कि हम हर सुबह एक बार फिर से,
जिंदगी सँवार लेते हैं।

 

raat bhar kee udaasiyon ke baad,
ye bhee ek hunar hee maano,
ki ham har subah ek baar phir se,
jindagee sanvaar lete hain.

 

जिन्दगी की राहों में मुस्कराते रहो हमेशा,
उदास दिलों को हमदर्द तो मिलते हैं, हमसफ़र नहीं।

 

jindagee kee raahon mein muskaraate raho hamesha,
udaas dilon ko hamadard to milate hain, hamasafar nahin।

 

पतझड़ की कहानियाँ
सुना-सुना के उदास न कर,
नए मौसमों का पता बता,
जो गुज़र गया सो गुज़र गया।

 

patajhad kee kahaaniyaan
suna-suna ke udaas na kar,
nae mausamon ka pata bata,
jo guzar gaya so guzar gaya.

 

बहुत उदास है कोई शख्स तेरे जाने से,
हो सके तो लौट आ किसी बहाने से,
तू लाख खफा सही मगर एक बार तो देख
कोई टूट गया है तेरे जाने से।

 

bahut udaas hai koee shakhs tere jaane se,
ho sake to laut aa kisee bahaane se,
too laakh khapha sahee magar ek baar to dekh
koee toot gaya hai tere jaane se.