Wafadari Shayari वफादारी शायरी हिंदी में (2022-23)

Wafadari Shayari In Hindi | वफ़ादारी शायरी हिंदी में

* Shayari In Hindi (* हिंदी में) सम्बंधित हर शायरी पोस्ट के अन्दर है.Wafadari Shayari In Hindi | वफ़ादारी शायरी हिंदी में * Shayari In Hindi (* हिंदी में) सम्बंधित हर शायरी पोस्ट के अन्दर है.

Wafadari Shayari वफादारी शायरी हिंदी में (2022-23) In Hindi

Wafadari Shayari
दोस्ती इश्क और वफादारी
सख्त जाँ में भी नर्म गोशे हैं

जिंदगी कुछ तो भरम रख ले वफादारी का
तुझ को मर मर के शब ओ रोज सँवारा है बहुत

ये वाज ए वफादारी आजिज न बदल देना
वो जख्म तुझे देंगे तुम उन को गजल देना

Wafadari Shayari वफादारी शायरी हिंदी में (2022-23) हिंदी में

इन वफादारी के वादों को इलाही क्या हुआ
वो वफाएँ करने वाले बेवफा क्यूँ हो गए

Wafadari Shayari वफादारी शायरी हिंदी में (2022-23) 2 line

वफा दारी ब शर्त ए उस्तुवारी अस्ल ईमाँ है
मरे बुत खाने में तो काबे में गाड़ो बिरहमन को

छेड़ देखो मिरी मय्यत पे जो आए तो कहा
तुम वफादारों में हो या मैं वफादारों में हूँ

ये काफी है कि हम दुश्मन नहीं हैं
वफा दारी का दावा क्यूँ करें हम

बा द खत आने के उस से था वफा का एहतिमाल
लेक वाँ तक उम्र ने अपनी वफादारी न की

मरते दम तक तिरी तलवार का दम भरते रहे
हक अदा हो न सका फिर भी वफादारों से

Read Also:Mashoor Shayari 
Read Also:Kirdar Shayari 
Read Also:Insaan Shayari