Zalima Shayari ज़ालिमा शायरी हिंदी में (2022-23)

Zalima Shayari In Hindi | ज़ालिमा शायरी हिंदी में

* Shayari In Hindi (* हिंदी में) सम्बंधित हर शायरी पोस्ट के अन्दर है.Zalima Shayari In Hindi | ज़ालिमा शायरी हिंदी में * Shayari In Hindi (* हिंदी में) सम्बंधित हर शायरी पोस्ट के अन्दर है.

Zalima Shayari ज़ालिमा शायरी हिंदी में (2022-23) In Hindi

Zalima Shayari
इश्क इन जालिमों की दुनिया में
कितनी मजलूम जात है ऐ दिल

मिरे हर जख्म पर इक दास्ताँ थी उस के जुल्मों की
मिरे खूँ बार दिल पर उस के हाथों का निशाँ भी था

Read Also:Khel Shayari 
Read Also:Beparwah Shayari 
Read Also:Muqaddar Shayari